PPC क्या हैं और क्या ये ऑनलाइन बिज़नेस के लिए जरुरी हैं

  • by
PPC क्या हैं
Spread the love

दोस्तों मैं आपका दोस्तों पवन शर्मा आपका स्वागत करता हु एक फ्रेस article में जिसमे हम बात करेगे PPC क्या हैं.

क्या हैं PPC और क्या ये आज के टाइम में जहा सब कुछ ऑनलाइन हो रहा हैं इस टाइम में PPC किसे भी ऑनलाइन बिज़नेस के लिए जरुरी हैं क्या ?

PPC क्या हैं?

PPC का Full-Form होता हैं Pay Per Click. इसको Internet की भाषा में एक तरह कि Advestiment कहते हैं.

जैस कि इसके नाम से पता चलता हैं कि Pay Per Click मतलब जब कोई Click करेगा तो Company को Per Click पर पैसा देना होता हैं.

कुछ आसान भाषा में आपको समजाता हू.

जैसे हम लोग टीवी में कोई प्रोग्राम देखते हैं तो बीच बीच मे ad दिखाते हैं तो जो कंपनी ad चला रही हैं वो TV चैनल को पैसे देती देती हैं अपना ad दिखाने के लिए.

ठीक इसी तरह internet में जब ad दिखाया जाता हैं तो जो कंपनी ad दिखाती हैं वो पैसा देते हैं उस कंपनी को जो ad दिखा रही हैं अपनी साईट पर या दुसरी साईट पर.

For Example:

मान लो मेरा कोई ऑनलाइन स्टोर हैं जहा मैं दीवार घड़ी बेचता हू तो मुझे अपनी घड़ी बेचने के लिए कस्टमर चाहिये. वो मुझे कहा मिलेगे ? Internet पर. Right?

अब internet पर कस्टमर को ढूढने के 2 तरीके हैं.

  • अपनी website पर अच्छे से SEO करू
  • अपनी website के लिए मैं पैसा देकर ad चलाऊ.

अब इन दो तरीको से मेरे साईट पर कस्टमर आयेगे और मेरी घड़ी को खरीदेगे.

अब हम बात करेगे इन दोनों तरीको कि जहा आपको पूरी तरह से समज में आ जायेगा कि PPC क्या है.

SEO:

अगर मैं अपनी साईट पर SEO करता हु तो बहुत मुश्किल हैं SEO से मेरे साईट को Google के पहले पेज पर रैंक करवाना क्यों कि जैसा कि आप सब को पता हैं अभी internet पर कम्पटीशन इतना बढ़ गया हैं.

ऐसी 1000 website आपको internet पर मिल जायेगे तो अभी ऑनलाइन घड़ी बेच रही हैं तो उनको पीछे छोर कर मेरे साईट को 1 no पे लाना बहुत मुश्किल काम हैं और बहुत टाइम लगेगा.

इसलिए ये तरीका सही नहीं हैं हमारे आइटम को ऑनलाइन सेल करना.

इसलिए यहाँ काम करता हैं PPC. जहा आपको बहुत जल्दी रिजल्ट देखने को मिल जाते हैं.

PPC AD:

क्या होता हैं PPC ad? PPC में आपको उस कंपनी को कुछ पैसा देना होता हैं जिनके साईट पर आप अपनी साईट का ad दिखाना चाहते हो.

मैं आपको बता दू ज्यादातर ad जो होते हैं वो google पर ही चलते हैं क्योंकि google का इस्तेमाल सबसे ज्यादा करते हैं सब कोई.

PPC AD चलाने से मुझे एक चीज का आराम होगा कि मेरे पास कस्टमर बहुत जल्दी आ जायेगे और मुझे ज्यादा seo पर भी ध्यान नहीं देना पड़ेगा

मुझे उमीद हैं आपने जान लिया कि PPC क्या है? और कैसे PPC काम करता हैं.

लेकिन सिर्फ PPC क्या है ये जानने से आपका काम नहीं बनेगा. आपको ये भी जानना होगा कि PPC ads कैसे चलाये जाते हैं.

तो फिर आगे बढ़ते हैं और आपको बताते हैं ppc ads कितने टाइप्स के होते हैं.

PPC ADs कितने प्रकार के होते हैं? (PPC ADs Types)

अगर हम बात kare ऑनलाइन ad के बारे में तो ये बहुत तरह के होते हैं जैसे फेसबुक पर ad दिखाना, Instagram पर ad दिखाना.

लेकिन आज हम इस article में बात करेगे google ad के बारे. जो कि बहुत ही ज्यादा popular तरीका हैं ad चलाने का.

बड़ी बड़ी कंपनी इसी तरह के ad चलाती हैं

  • Search Ad

सबसे ज्यादा popular तरीका हैं PPC ad चलाने का वो हैं Search ad. ये ad जो होता हैं ये google के पहले पेज पर दिखाया जाता हैं.

और ये बहुत ही ज्यादा कारगर तरीका हैं. क्यूकि जैसा कि हम जानते हैं google पर बहुत ट्रैफिक आता हैं.

PPC क्या हैं

जैसा कि आप उपर में देख सकते हैं मैंने search किया था Digital Marketing तो उसका जो रिजल्ट हैं वो आप देख सकते हैं सबसे उपर के जो रिजल्ट दिख रहा हैं उनमे शुरुवात में आपको ad लिखा हुआ दिख रहा हैं.

मतलब ये हुआ कि इस कंपनी ने Google को पैसा दिया हैं Digital Marketing Keyword के उपर अपना PPC ad दिखाने के लिये.

जब कोई यूजर इन ad पर क्लिक करेगा वो ये कंपनी google को पैसा देगी. और कितना पैसे देगी ये depend करता हैं Google के CPC (Cost Per Click).

मतलब किसी कंपनी को google को कितना पैसा देना पड़ रहा हैं Per Click पर.

ये एक अलग topic हैं जिसपे हम आने वाले दिनों में बात करेगे. उसे ही हम PPC कहते हैं.

  • Shopping Ad

अब हमारे जो PPC में ad आते हैं उनको हम बोलते हैं shopping ad. Shopping ad जो होते हैं वो आपको google में दिख जायेगे.

PPC क्या हैं

 

जैसा आप उपर कि image में देख पा रहे होगे.

अगर कोई यूजर इन ads पर क्लिक करता हैं तो जिस कंपनी का ad होता हैं वो कंपनी google को पैसा देती है. वैसे ये जो ad होते हैं वो आपको adsense approved साइट्स पर भी देखने को मिल जाते हैं.

  • Display Ad

डिस्प्ले ad भी PPC में अन्दर ही आता हैं. इस में जो कंपनी ad चलाती हैं उनका ad google में नहीं दिखाया जाता.

बल्कि ऐसी website जो Google Adsense approed होती हैं. जहा google कि तरफ से ad दिखाए जाते हैं वह Display ad कहलाते हैं.

PPC क्या हैं

उपर कि image में आप देख पा रहे होगे ये जो ad होते हैं इनको हम display ad बोलते हैं.

  • Video Ad

हमारे अगले जो ad हैं वो display ad कहलाते हैं और वो भी ppc में ही आते हैं.

आपने अक्सर YouTube पर देखा होगा, जब आप कोई video देखते हैं तो वह आपको ad दिखाए जाते हैं वो ppc ही कहलाते हैं.

why ppc is important

why ppc is important

Video ad जो होते हैं वो YouTube ही नहीं आपको और भी बहुत प्लेटफार्म पर देखने को मिल जाते हैं.

अब आपने ये तो जान लिया कि PPC क्या है  और कितने प्रकार के होते हैं. अब हम बात करेगे benefits of ppc ad.

Benefits Of PPC:

  • Provide Fast Results :

PPC का इस्तेमाल कर के आप अपनी साईट को बहुत आसानी से Google के पहले पेज में ला सकते हो. अगर आपकी साईट अभी नयी हैं और आपने ठीक से SEO भी नहीं किया.

तब भी आप Google के पहले पेज में ला सकते हो PPC का इस्तेमाल करके.

  • Cheaper Than Traditional Marketing

PPC marketing बहुत सस्ती होती हैं ट्रेडिशनल marketing से क्योंकि Traditional marketing में आपका ad दिखाया जायेगा, फिर वो चाहे users के काम का मत हो.

लेकिन ppc marketing में आपको इस चीज कि सुविधा मिलती हैं कि जब कोई आपके ad पर क्लिक करेगा सिर्फ तब आपको pay करना हैं. ad show होने के कोई पैसा नहीं लगता इस में.

  • Reach The Right Audience

ये चीज मुझे PPC marketing कि बहुत बढ़िया लगी. क्योंकि PPC में आप अपने हिसाब से अपने target audience को अपना ad दिखा सकते हो.

Traditional marketing में जब आप कोई ad चलाते हैं तो आपका ad जो हैं वो सब को दिखाए जाता है फिर चाहे हो उनके काम का हो या ना हो.

मान लीजिये आप कोई ad चलाते हो Traditional में cricket bat का तो आपका जो ad हैं वो सब को दिखाया जायेगा चाहे वो ladies हो या Old person हो जिनके कोई काम का नहीं हैं cricket bat फिर भी ad सबको दिखाया जायेगा.

लेकिन वही अगर हम PPC AD कि बात kare तो आपको इसमें बहुत सारे Option मिल जाते हैं. आप अपना ad कोई अपनी पसंद कि audience को ही दिखा सकते हैं.

PPC ad में आपको option मिलता हैं कि आप अपना ad जो हैं वो male या female को दिखाना चाहते हैं. कोनसे area में दिखाना चाहते हैं मतलब आप अपने हिसाब से location सेट कर सकते हो.

और भी इसे बहुत सारे customize option आपको वहा मिल जाते हैं.

  • Budget-Friendly

Traditional marketing में जो रेट होती हैं ad दिखाने कि आपको उतना ही पैसा देना पड़ता हैं. और ये जो रेट होती हैं ये लाखो में होती हैं.

लेकिन अगर हम बात kare PPC ad कि तो इसमे आप अपने हिसाब से ad कि रेट देख सकते हो. और उस हिसाब से ad चला सकते हो.

अगर आपका बजट 2000 रुपये भी हैं तो आप बहुत आसानी से ad run कर सकते हो.

Also Read:

What Is Domain Authority and How To Check It

How To Download WhatsApp Status

How To Write Your First Blog Post

Free Intro Maker Without Watermark

PPC ADS क्यों जरुरी हैं ?

जैसे हम अगर हमारी website का अच्छे से SEO करे तो ये पक्का हैं हमारी website google के पहले पेज में आयेगी लेकिन इस में समय लग सकता हैं.

अगर हम हमारे products को facebook या instagram पर शेयर करे तो वहा से भी हमारी सेल हो सकती हैं.लेकिन उसमे Audience Reach इतनी ज्यादा नहीं होती तो उसमे भी हमे समय लग सकता हैं.

इस लिए यहाँ पर काम करता है ppc ad क्यूकि कम पैसो में आप अपना product को रैंक करवा सकते हो.

और जैसा  मैंने कहा उपर में बहुत ही कम समय में आप या से रिजल्ट लेकर आ सकते हो. अभी के टाइम में छोटी या बड़ी कंपनी सब ppc ad पर ज्यादा ध्यान देती हैं.

क्यूकि इसमें पैसा भी कम लगता हैं और रिजल्ट भी आपको जल्दी देखने को मिल जाता हैं.

वैसे तो एक post में ppc को पूरी तरह से कवर करना आसान नहीं हैं लेकिन फिर भी मैंने अपनी तरफ से पूरी कोशिस करी हैं.

आपको ppc क्या हैं, ppc में कितने प्रकार के ad आते हैं, ppc क्यों जरुरी हैं  ये  समझाने की|

मुझे उमीद हैं आपको समझ में आ गया होगा ppc क्या हैं?

अगर फिर भी आपको कही कुछ समझ में नहीं आया हैं या आप कुछ पूछना चाहते हैं तो आप निसंकोच निचे comment में आप हमसे पूछ सकते हैं.

मुझे खुशी होगी आपके सवाल का जवाब देने में.

अगर आपका कोई सुझाव हैं तो आप हमे बता सकते हैं. post अगर अच्छा लगा तो इसे अपने फ्रेंड्स के साथ शेयर जरुर करे.

एसे ही knowledge भरी post के लिए आप हमारे newsletter को subscribe कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *